Home

Friday, August 12, 2011

RAKSHA BANDHAN



तू जो चाहे......... वो तेरा हो.............!!! 
 रोशन राते.. और खुबसूरत सवेरा हो.!!
 जरी रहेगा... दुआओं का सिलसिला..!!
 कामयाब हर मंजिल पर भाई मेरा हो..!

मुझे कुछ नहीं चाहिए....... एक मुस्कान काफी है..!!!
दिल में अभी .......एक अरमान बाकी है........!!!!!!!!
अरमान यह की .....तू रहे सदा खुश मेरी बहन......!!
बस मुझे याद रखियो ....यह एहसान काफी है.....!!!


श्रावण मास जैसा की मै आपको पहले भी बता चूका हू की हमारी हिन्दू परंपरा का सबसे अधिक महत्वपूर्ण और भक्ति रस से ओत-प्रोत मास है
और इसी मास की पूर्णिमा को रक्षा बंधन के पवित्र त्यौहार के रूप में मनाया जाता है. भाई और बहन के लिए यह त्यौहार सबसे अधिक महत्व रखता है क्युकी इस दिन भाई अपनी बहन के प्रति और बहन अपने भाई के प्रति अपने रिश्ते को और अधिक संगठित करते है. इस दिन हर बहन अपने भाई को एक पवित्र धागा जिसे राखी कहा जाता है अपने भाई की कलाई पर बाधती है और इस यह रस्म इस बात की प्रतीक है की भाई और बहन का सम्बन्ध उस धागे की तरह अटूट है और जब उसकी बहन उसके करीब नहीं होगी तो वो धागा ही भाई को अपनी बहन की याद दिलाता है. और उसके बाद हर भाई अपनी बहन को उपहार में यह वचन देता है की वो उसकी हर मुसीबत में सहायता करेगा और उसे कभी भी किसी चीज़ का अभाव नहीं होने देगा.

भाई बहन का यह पावन और पवित्र त्यौहार आप सबको परम श्रधेय गुरुदेव श्री मृदुल कृष्ण शास्त्री जी महाराज एवं परम पूज्य छोटे गुरुदेव श्री गौरव कृष्ण गोस्वामी जी महारज की ओर से बहुत बहुत मुबारक हो. ठाकुर जी आपके भाई और बहन को सदा स्वस्थ रखे और खुश रखे. आप सब के ऊपर किशोरी जी की विशेष कृपा निरंतर बनी रहे. इस पवित्र दिन पर मेरी प्रभु से यही प्रार्थना है. आप सब को mridulkrishna.blogspot.com के परिवार की तरफ से बहुत बहुत शुभकामना.

राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे

7 comments:

  1. jai jai shri radhye guruvar ji ke charno mai mera koti koti bandan mere guru parwar ko raksha bandhan ka teyohar bahut bahut mubarak

    ReplyDelete
  2. jai jai shri radhye guru dev mera koi bhai to nahi magar suna hai guru se bada koi rakshak nahi hota guru hamare saath hamesha hote hai meri rakhsa karna gurudev pata nahi mai kis bhanvar mai fans gai hun mujhye apna haath de kar ubariye guru dev mujhye hamesha apne sanrakasan mai rakhiye mai .............JE TU NA FADDA SADI BAHAH KI ASI RULL JANA SI....

    ReplyDelete
  3. aap sahi keh rahe ho ki gurudev se bada koi rakshak nahi hai par aapka aisa manana galat hai ki apka koi bhai nahi hai.
    Agar mai apke bhai banane ke layak hu to aap mujhe apna bhai maan sakti hai aur apko jo bhi problem hai aap mujhe e-mail pe contact kariye , mai gurudev ki kripa se apki madad zrur karuga
    Aur hamare bankey bihari ji to hai hi sabke bhai
    Radhey Radhey

    ReplyDelete
  4. Very nice reply Anshu.. i proud of u...

    ReplyDelete
  5. Ya didi dnt wory we all r with u... just rember upar se to hum akele hi ate hai bus yha ake kuch bhavnaye hume jod deti hai..
    Radhe Radhe...

    ReplyDelete
  6. n one more thing..
    Krishna vande Jagat Gurumm especially for u Krishna Vande Jagat Bhaiya... he he.. khush...
    Hapyy Rakhsa bandhan..

    ReplyDelete
  7. Nice reply Anshu
    @ Anonymous -- waise bhi hum sab jab gurudev se jude usi shan se sab guru shishya hamare bhai aur behan hi hote hai -- aapne nahi suna kabhi "yeh mera guru bhai hai" -- usme to age bhi matter nahi karta-aapke papa bhi abke guru bhai bhi kehlange agar wo bhi guru shishya hai to .. Radhe Radhe

    ReplyDelete